Monkeypox Virus : दुनियाभर में फैल रहा है मंकीपॉक्स वायरस, भारत में कई लोग हो चुके है संक्रमित, देखें क्या है लक्षण और कैसे करें बचाव?

Monkeypox Virus : मंकीपोक्स वायरस नाम से ही पता चलता है कि यह वायरस मंकी यानी बन्दर से जुडा हुआ है। जी हाँ, यह एक बन्दर जनित रोग है जो अब मनुष्यों को भी संक्रमित कर रहा है तथा अब यह 78 देशों में फैल चुका है सर्वप्रथम यह वायरस अफ्रीकन के बंदरो में पाया गया था। जिसे आर्थोपोक्स वायरस के नाम से भी जाना जाता है। तथा वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन (WHO) ने इसे महामारी घोषित कर दिया है और सभी को इसके प्रकोप से बचने का सख्त निर्देश दिया है।

जैसा की आप सभी लोग जानते हैं कि पूरा देश करोना वायरस नामक महामारी से जूझ रहा था इसी बिच एक और महामारी का आ जाना मनुष्यों के लिए कितना हानिकारक साबित हो सकता है। और डॉक्टरों द्वारा इससे ज्यादा क्षति होने की संभावना भी व्यक्त की गयी है, ऐसे में मनुष्यों का कर्तव्य बनता है कि खुद के बचाव के लिए डॉक्टरों द्वारा दिये गये निर्देश का पालन जरूर करें।

आपको बता दे कि भारत में मंकीपोक्स वायरस का अब तक 4 मामले आ चुके हैं तथा 1 लोग कि इस महामारी की वजह से मौत भी हो चुकी है। तथा इस महामारी की अब तक वैक्सीन उपलब्ध नहीं हुयी है लेकिन दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में इसका इलाज किया जा रहा है। भारत के वैज्ञानिक इस वैक्सीन को बनाने में लगे हुये है उनका दावा है कि जल्द ही वैक्सीन उपलब्ध करा दी जायेगी।

Monkeypox Virus
Monkeypox Virus

monkeypox Virus के लक्षण –

यह रोग काफी हद तक चिकेनपॉक्स से मिलता है। भारत के कई डाक्टरों द्वारा इस रोग के संदर्भ में कहा है कि यदि कोई व्यक्ति इस रोग से ग्रसित है तो उसे बुखार आयेगा तथा शरीर में हल्के और बड़े दाने दिखने लगेंगे या फिर थकावट महसूस होगा और शरीर में रेशेस दिखने लगेंगे।

कैसे करें बचाव –

  • मंकीपोक्स वायरस से बचने के लिए कई आसान उपाय है डॉक्टरो द्वारा दिये गये निर्देश के अनुसार इस रोग से ग्रसित मनुष्य से दूरी बनाये रखें क्योंकि यह रोग छूने, हाथ मिलाने, यौन सम्बन्ध बनाने, या फिर संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आने से फैलता है।
  • डाक्टरों ने बताया है कि जिस व्यक्ति की इम्युनिटी क्षमता कम है वह इस रोग से ज्यादा सतर्क रहे क्योंकि ऐसे व्यक्ति के पास रोग से लड़ने की क्षमता कम होती है।
  • मंकीपोक्स वायरस से संक्रमित व्यक्ति द्वारा किया गया किसी भी प्रकार की वस्तु जैसे – खाने का पात्र, कपड़े, साबुन आदि का इस्तमाल ना करें।
  • गर्भवती महिला, बच्चे तथा बुजुर्ग मंकीपोक्स वायरस से ज्यादा बचे साथ ही सेनिटाइजर और मास्क का प्रयोग जरूर करें।

ऐसी ही सरकारी योजना, लेटेस्ट सरकारी खबरों और करियर न्यून के लिए सरकारी अलर्ट को बुकमार्क करें।

कमेन्ट करें